68 लाख परिवार कहां और क्यों बैठने जा रहे हैं उपवास पर, क्या है इनकी मांग 

0
2808

68 लाख परिवार कहां और क्यों बैठने जा रहे हैं उपवास पर, क्या है इनकी मांग

देहरादून।

राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त्त मोर्चा ने पुरानी पेंशन बहाली को आंदोलन तेज कर दिया है। मोर्चा की बैठक में तय हुआ कि 13 सितंबर को देश भर के 68 लाख कर्मचारियों के परिवार उपवास पर रहेंगे।
प्रदेश अध्यक्ष अनिल बडोनी और सीताराम पोखरियाल ने कहा कि सरकार हमारे प्रयासों पर ध्यान दे रही है, यह बहुत अच्छी बात है लेकिन राज्य सरकार के मात्र पत्र लिख देना भर हमारी जीत नही है। हमने कोरोना के काल मे उस माध्यम को अपना हथियार बनाया है, जिस पर सारा भारत ध्यान दे रहा था। हम और हमारी सँयुक्त मोर्चा की उत्तराखंड की सम्पूर्ण टीम हालात सामान्य होते ही जल्द ही धरातल पर बड़े आन्दोलन की योजना पर काम कर रहे हैं। इसमें हर ब्लॉक से भागीदारी सुनिश्चित है। उपवास कार्यक्रम असल मे सत्याग्रह की शुरुआत है। पेंशन के प्रति जागरूकता अब धीरे धीरे कर्मचारियों में अलख जगा रही है। इसके कारण लोग एक जुट हो रहे हैं। उत्तराखंड में 2 लाख के आस पास कर्मचारी हैं। ये कर्मचारी यदि पेंशन के लिए एक जुट हो जाएं तो सरकार जरूर पुरानी पेंशन को बहाल करेगी।
बैठक में प्रदेश स्तर पर देवेंद्र बिष्ट, योगिता पन्त,रज्जन कफलटिया, प्रवीण भट्ट, लक्ष्मण रावत, गढ़वाल मण्डल से से जयदीप रावत, दिलबर सिंह रावत, नरेश भट्ट,निर्मला थापा, सौरभ नौटियाल, दीपक गोडियाल, प्रदीप जुयाल, मेहरबान सिंह भण्डारी, भवान नेगी , कविता कोटनाला, कुमाऊँ मण्डल से कपिल पांडे, राजीव कुमार,राजेन्द्र शर्मा, सुबोध कांडपाल, रेनु डांगला, दया जोशी, त्रिभुवन बिष्ट ,मिलिन्द बिष्ट इत्यादि शामिल रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here